Menu

पुलवामा आतंकी हमले के बाद कांग्रेस ने शुरू की राजनीति, केंद्र सरकार पर साधा निशाना

पुलवामा आतंकी हमले के बाद कांग्रेस ने शुरू की राजनीति, केंद्र सरकार पर साधा निशाना
कांग्रेस ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए आतंकी हमले की निंदा करते हुए आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता करने का सिलसिला लगातार जारी है. पार्टी ने इस मामले को लेकर राजनीति करने की कोशिश की.

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, "हम पुलवामा में कायराना आतंकी हमले की निंदा करते हैं. सर्वोच्च बलिदान देने वाले अपने 18 बहादुर जवानों को हमारी श्रद्धांजलि. हम उनके परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करते हैं.' उन्होंने आरोप लगाया, 'उरी, पठानकोट, पुलवामा. मोदी सरकार द्वारा राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता किया जाना लगातार जारी है.'

सुरजेवाला यहीं पर नहीं रुके, उन्होंने दावा किया, "मोदी सरकार में यह 18वां बड़ा आतंकी हमला है. इस सरकार में आए दिन हमारे जवानों पर हमले हो रहे हैं. पांच हजार से अधिक बार सीमा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया गया, लेकिन मोदी सरकर चुप रही." 


उधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने आतंकी हमले की निंदा करते हुए कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि घाटी में आतंकवाद फिर से अपने घिनौने रूप में पैर पसार रहा है. राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष ने एक बयान में कहा, "यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद एक बार फिर से अपने घिनौने रूप में पैर पसार रहा है और हमारे अर्धसैनिक बलों की बेशकीमती जानें गई हैं' आजाद ने कहा, "मैं जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल से आग्रह करता हूं कि इस हमले में मारे गए लोगों के परिवारों को उचित आर्थिक मदद देने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जाएं."

इस मामले में पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने पुलवामा आतंकी हमले की वजह से संवाददाता सम्मेलन में कोई राजनीतिक चर्चा नहीं की और वारदात के शहीदों को श्रद्धांजलि देकर चली गईं. प्रियंका ने संवाददाता सम्मेलन में कहा 'जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी हमला हुआ है, जिसमें हमारे जवान शहीद हुए हैं. उसकी वजह से हम यह अनुचित समझते हैं कि हम अभी कोई राजनीतिक चर्चा करें.' 

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *