Menu

कांग्रेस अकेले दम पर BJP को कभी नहीं हरा सकती:- AIMIM सांसद असदुद्दीन ओवैसी

 कांग्रेस अकेले दम पर BJP को कभी नहीं हरा सकती:- AIMIM सांसद असदुद्दीन ओवैसी
लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) से पहले ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा कि कांग्रेस अकेले दम पर कभी बीजेपी को नहीं हरा सकती. ओवैसी ने कहा कि कांग्रेस के पास न 'कैपेसिटी है...न केपेबिलिटी है और न ही क्वालिटी' है. NDTV के 'हमलोग' कार्यक्रम में उन्होंने कांग्रेस और बीजेपी दोनों पर हमला बोला. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि कहा कि दोनों राष्ट्रीय पार्टियों की सबसे बड़ी लड़ाई यह है कि सबसे बड़ा हिन्दू कौन है? यही उनकी सबसे बड़ी लड़ाई है. आप देखते होंगे कि चाहे राहुल गांधी हो या नरेंद्र मोदी..इनमें यह कॉम्पिटीशन है कि आप दो मंदिर जाएंगे तो हम पांच मंदिर जाएंगे...आप चलकर जाएंगे तो मैं तालाब में प्लेन को उतार दूंगा. ओवैसी ने कहा, 'मैं आवाम का एजेंट हूं. मैं अपनी राजनीति कर रहा हूं. मैं 8 साल यूपीए के साथ था. कई बार मैं कांग्रेस अध्यक्ष के घर गया. उस समय तो मैं बहुत नेक आदमी था, आज मैं बुरा हो गया क्योंकि मैं अब उनकी मुखालफत कर रहा हूं.'

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी बोले- न मैं BJP से मिला हुआ हूं और न कांग्रेस से, 'मेरी हालत रजिया गुंडों में फंस गई जैसी...'

AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी पर भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस का और कांग्रेस बीजेपी से मिले होने का आरोप लगाती रही है. इस बार में जब ओवैसी से पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'आज देश में ऐसा माहौल है कि जो कांग्रेस का विरोध करेगा वह बीजेपी का एजेंट हो जाता है. जो मोदी के खिलाफ बोलता है वह राष्ट्रद्रोही हो जाता है. मेरी तो हालत ऐसी हो गई है कि हमारे हैदराबाद में उर्दू में एक कहावत है कि 'फंस गई रजिया गुंडों में' वैसी हो गई है. मैं बीजेपी के खिलाफ बोलूंगा तो राष्ट्रद्रोही है ये, कांग्रेस के खिलाफ बोलूंगा तो बोलेंगे बी-टीम है ये, सी-टीम है ये. पैसे ले रखा है इनलोगों ने. उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि मैंने कई बार कहा कि कुछ तो दिलाओं मुझे पैसे...अभी तक तो नहीं मिले हैं. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी खुद हैदराबाद आए थे. उन्होंने मेरे चुनावी क्षेत्र में तीन सभाएं की. उन्होंने तोते की तरह रट-रटकर कहा की सी-टीम है...सी-टीम है. पैसे ले लिए....वोट काटते हैं, लेकिन हैदराबाद की जनता ने बता दिया कि कौन बीजेपी को हरा सकता है.  

उन्होंने कहा कि हम तेलंगाना में केसीआर के साथ है, जो मुख्यमंत्री हैं. हमारी पूरी कोशिश होगी कि तेलंगाना की 17 सीटों पर 17-0 का रिजल्ट आए. वहां न बीजेपी जीते और न कांग्रेस जीते. दूसरा आंध्र प्रदेश में भी जगनमोहन रेड्डी हमारे करीबी दोस्त हैं. उनसे भी हमारी बात चल रही है. कोशिश हो रही है कि वह भी वहां 20 से ज्यादा सीटें जीत पाएं. महाराष्ट्र में प्रकाश आंबेडकर के साथ गठबंधन है. बाकी जगहों पर जो होगा देखा जाएगा.  


क्षेत्रीय पार्टियों की भूमिका अहम

उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान में 350 ऐसी सीटें हैं जहां क्षेत्रीय पार्टी काफी मजबूत हैं. बिना इनके कुछ होने वाला नहीं है. अगर 2019 में रिजनल पार्टी 30% वोट क्रॉस करते हैं तो यकीनन उनके बिना कोई सरकार नहीं बनेगा. मेरी ख्वाइश है कि इस मुल्क को नॉन कांग्रेस और नॉन बीजेपी सरकार मिले.


सवर्ण आरक्षण पर सरकार के खिलाफ

ओवैसी ने कहा कि आर्थिक आधार पर आरक्षण नहीं दिया जा सकता. संविधान में इसका प्रावधान ही नहीं है. मेरा मानना है कि सुप्रीम कोर्ट में यह नहीं टिकेगा. बता दें कि संसद में आर्थिक आधार पर चर्चा के दौरान ओवैसी ने इसका विरोध किया था.

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *