Menu

रामपुर सीट अगर मैंने 3 लाख वोट से नहीं जीती, तो समझना हिंदुस्तान में बेइमानी हुई: आजम खान

रामपुर सीट अगर मैंने 3 लाख वोट से नहीं जीती, तो समझना हिंदुस्तान में बेइमानी हुई: आजम खान
 लोकसभा चुनाव नतीजों से पहले आए Exit Poll पर बहस जारी है. जहां बीजेपी समेत एनडीए के दल इसे अपनी जीत बता रहे हैं, वहीं यूपीए और दूसरे दलों ने एग्जिट पोल को आज़म खान ने सट्टे बाज़ारियो के फायदे का बताया है. उन्‍होंने कहा, यह उन सट्टेबाज़ारियो के फायदे का है, जिन्होंने लाखो करोड़ सट्टे में लगाए. वहीं रामपुर की सीट पर कहा कि अगर रामपुर की सीट पर मेरी जीत 3 लाख से कम पर होती है, तो इसका मतलब पूरे हिंदुस्तान मे बेईमानी हुई है.

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में ईवीएम की अफवाहों के बाद आज़म खान का ईवीएम को लेकर बड़ा बयान आया है. आज़म खान ने कहा कि रामपुर में भी संदिग्ध गाड़ि‍यां मतगणना स्थल पर देखी गई हैं. एक जगह गाड़ी पर फ़र्ज़ी नंबर प्लेट को भी देखा गया. फ़र्ज़ी नम्बर प्‍लेट्स लगाकर ईवीएम को ट्रांसफर मामले की शिकायत चुनाव आयोग से आज़म खान ने की है.

जया प्रदा पर आपत्‍त‍िजनक टिप्‍पणी से हुआ था विवाद

समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान और कभी उनकी पार्टी में रही जया प्रदा के बीच वाकयुद्ध ने शब्दों की सारी गरिमा खत्म कर दी. जया प्रदा हाल ही में बीजेपी में शामिल हुई थीं और उन्होंने खान के खिलाफ चुनाव लड़ा. आजम खान ने एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘मैं उन्हें (जया प्रदा) रामपुर लाया. उनका असली चेहरा पहचानने में 17 साल लगे लेकिन मैं उन्हें 17 दिनों में पहचान गया था.’

इस बयान के लिए खान पर निर्वाचन अयोग ने चुनाव प्रचार से 72 घंटे का प्रतिबंध लगा दिया था. यह मामला यहीं खत्म नहीं हुआ. एक जनसभा में खान के बेटे अब्दुल्ला आजम ने जयाप्रदा पर ‘अनारकली’ टिप्पणी की. उन्होंने कहा, ‘अली भी हमारे, बजरंग बली भी हमारे लेकिन अनारकली नहीं चाहिए.’ जया प्रदा ने भी खान की ‘‘एक्स-रे आंखों’’ के बारे में टिप्पणी कर विवाद खड़ा कर दिया था.

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *