Menu

जहाँगीर और आलम ने ध्रुव त्यागी को मार डाला, मुस्लिम मरे तो लिंचिंग, हिन्दू मरे तो सन्नाटा क्यों

जहाँगीर और आलम ने ध्रुव त्यागी को मार डाला, मुस्लिम मरे तो लिंचिंग, हिन्दू मरे तो सन्नाटा क्यों
नई दिल्ली, 16 मई: दिल्ली के मोती नगर इलाके में अपनी बेटी के साथ छेड़खानी का विरोध करने पर पिता की हत्या कर दी गई और भाई गंभीर रूप से घायल है. इस घटने में मरनें वाले का नाम ध्रुव त्यागी है और मारनें वाले का नाम जहाँगीर खान और आलम है, इसलिए गोदी मीडिया और बड़े-बड़े सेकुलर नेता खामोश हैं.

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि आरोपी शमशेर आलम और उसके पिता जहांगीर दोनों को तब तक पीटते रहे जब तक कि दोनों बेहोश नहीं हो गए। ध्रुव के भतीजे यश त्यागी ने बताया, ‘अनमोल मदद के लिए चिल्लाता रहा लेकिन किसी ने बढ़कर मदद नहीं की।

जहाँगीर और आलम ने ध्रुव त्यागी को मार डाला, मुस्लिम मरे तो लिंचिंग, हिन्दू मरे तो सन्नाटा क्यों

बता दें कि अगर यही ध्रुव त्यागी की जगह कोई मुस्लिम मरा होता और मारनें वाला कोई हिन्दू होता तो इसे लिंचिंग करार दे दिया जाता और देश छोडनें वालों की कतारे लग गई होतीं, लेकिन मरनें वाला ध्रुव त्यागी है इसलिए सन्नाटा है, हालाँकि कल दिल्ली में कपिल मिश्रा की अगुवाई में कैंडल मार्च निकाला गया.


Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *