Menu

बंगाल जैसी हिंसा किसी और राज्य में होती तो देश छोड़ने वालों की लाइन लग गई होती: रुबिका लियाकत

बंगाल जैसी हिंसा किसी और राज्य में होती तो देश छोड़ने वालों की लाइन लग गई होती: रुबिका लियाकत
पश्चिम बंगाल, 15 मई: पश्चिम बंगाल में मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड में जबरदस्त हिंसा हुई, आगजनी की गयी और पत्थरबाजी हुई, इस हिंसा को लेकर पत्रकार रुबिका लियाकत ने भी अपनीं प्रतिक्रिया दी है.

पत्रकार रुबिका लियाकत ने कहा कि – बंगाल में हुई हिंसा की जो तस्वीरें सामनें आई हैं, अगर ऐसी तस्वीर किसी और राज्य की होती तो देश को असुरक्षित क़रार दे दिया जाता।

बंगाल जैसी हिंसा किसी और राज्य में होती तो देश छोड़ने वालों की लाइन लग गई होती: रुबिका लियाकत







रुबिका ने कहा कि अब तक भारत छोड़ने की इच्छा प्रकट करने वालों की क़तारें लग गई होती। लोकतंत्र चूर-चूर हो गया होता। भला लोकतंत्र की दो परिभाषा कैसे हो सकती है.

बता दें कि पश्चिम बंगाल में मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड में जब आगजनी और पत्थरबाजी हुई तो इसके खिलाफ किसी भी नेता नें आवाज नहीं उठाई, न ही किसी को लोकतंत्र खतरे में लगा. इस हिंसा का आरोप सीधा-सीधा पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर लगा.


Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *