Menu

पहले राम नवमी पर BJP की आलोचना करते थे, इस बार TMC खुद राम भक्ति में लीन हो गई

पहले राम नवमी पर BJP की आलोचना करते थे, इस बार TMC खुद राम भक्ति में लीन हो गई
चुनावी मौसम में तृणमूल पार्टी का रंग भी बदल गया है. राम नवमी पर अक्‍सर आरएसएस-बीजेपी पर हमलावर रहने वाली पार्टी अब इस बार भगवान राम के गुणगान कर रही है और जयकारों के साथ जुलूस निकाल रही है.

इस बार राम नवमी के जुलूस में टीएमसी समर्थकों को 'जय श्री राम' के नारे लगाते हुए सुना गया. पिछले साल तक ऐसे नारे आरएसएस-बीजेपी लगाती थी. रामनवमी के कार्यक्रम में लोगों ने भगवान राम और हनुमान की फोटो छपे कपड़े पहने थे. ये जुलूस दुर्गा पूजा उत्‍सव की तरह लग रहा था.

बीजेपी तृणमूल पर आरोप लगाती रही है कि वे राज्‍य में पक्षपात का व्‍यवहार करती है. सभी हिंदू उत्‍सवों को बहुत ज्‍यादा महत्‍व नहीं देती है. वहीं पिछले साल ममता बनर्जी ने रामनवमी के जुलूस में हथियार लहराने के खिलाफ कार्रवाई करने की कोशिश की थी. जुलूस में त्रिशूल और तलवार लहराए गए थे. बीजेपी प्रदेश अध्‍यक्ष दिलीप घोष का नाम जुलूस में हथियार लेकर चलने वालों की सूची में पहले नंबर पर आया था.

हालांकि इस साल एक बार फिर से टीएमसी की सरकार ने राम नवमी की जुलूस में हथियारों के प्रदर्शन पर रोक लगा दी थी.

जोरासांको में रविवार को जुलूस में हिस्सा लेते हुए विधायक स्मिता बख्शी ने कहा, 'टीएमसी हमेशा राम नवमी की रैलियां निकालती रही है. पूरा हिंदू समुदाय ये त्‍योहार मनाता है. बीजेपी ने अपनी रैलियों के दौरान हथियारों का प्रदर्शन किया है.' वे वहां पर रैली को संबोधित कर रही थीं. हालांकि ऐसा भी कहा जा रहा है कि उन्‍होंने राम नवमी के बैनर की भी आलोचना की है

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *