Menu

कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने छेड़ा EVM राग, बोले- अचानक कहां से आ गई मोदी लहर?

कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने छेड़ा EVM राग, बोले- अचानक कहां से आ गई मोदी लहर?
लोकसभा चुनाव के रुझान में एनडीए 300 से अधिक सीटें जीतती दिख रही है, जबकि यूपीए 100 सीटों पर सिमटती दिख रही है. रुझानों के बीच फिर ईवीएम विवाद खड़ा हो गया है. कांग्रेस के नेता राशिद अल्वी ने ईवीएम पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा अभी तो यह रुझान है लेकिन मैं अपने बयान पर कायम हूं.

राशिद अल्वी ने आरोप लगाया कि कहीं ना कहीं कोई ना कोई खिलवाड़ जरूर है. मैं चाहूंगा सारा विपक्ष इकट्ठा होकर इस पर विचार करे. यह संभव नहीं है कि उत्तर प्रदेश में बीजेपी 50-55 सीटें ले जाए और दूसरे प्रदेशों में इतने भारी बहुमत से जीते. हम भी यूपी में तमाम सीटों में घूमे हैं, लेकिन ऐसा मुझे कहीं नहीं लगा. अब अचानक मोदी की सुनामी आ गई है. यह बात हमारे गले से नीचे नहीं उतर रही है.

राहुल और प्रियंका गांधी की लीडरशिप पर राशिद अल्वी ने कहा कि यह बिल्कुल गलत है. भारतीय जनता पार्टी की एक जमाने में 2 सीटें आई थीं तो उस समय क्या उनकी लीडरशिप पर सवालिया निशान लगाया जाएगा. यही आडवाणी थे, जो बीजेपी को कहीं से कहीं ले गए और प्रियंका गांधी के बारे में मैं कहूंगा कि वह राजनीति में तब आई जब चुनाव शुरू हो गया. उनकी राजनीति पर कैसे सवाल लगाया जा सकता है.

कांग्रेस अध्यक्ष का बचाव करत हुए राशिद अल्वी ने कहा कि राहुल गांधी ने 2009 में सरकार बनाई. 2004 में वह पहली बार राजनीति में आए. 2009 में कांग्रेस पार्टी ने 209 सीटें जीती थी फिर राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में जीत राहुल की लीडरशिप का नतीजा है. राशिद अल्वी ने तंज कसते हुए कहा कि जहां पर इवीएम बीच में आ जाए, वहां पर लीडरशिप फेल हो जाती है.

इससे पहले राशिद अल्वी ने कहा था कि अगर एग्जिट पोल जैसे रिजल्ट आते हैं तो हमारा मानना है कि पिछले दिनों तीन राज्यों के चुनाव में जहां-जहां कांग्रेस जीती है वह एक साजिश थी. तीन राज्यों में कांग्रेस की जीत के साथ ये भरोसा दिलाया गया कि EVM सही है. इससे उन्होंने यह भी साबित करने की कोशिश की कि चुनाव आयोग पर सरकार का कोई दखल नहीं है.

Leave a Reply
Your email address will not be published. Required fields are marked *
Cancel reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *